बॉडी Body को डिटॉक्स Detox करना क्यों है जरूरी

0
664
बॉडी को डिटॉक्स करना क्यों है जरूरी
बॉडी को डिटॉक्स करना क्यों है जरूरी

डिटॉक्स ड्रिंक दिल को स्वस्थ रखने के लिए पोषक तत्वों से भरपूर होता है।इन जूसेस में भारी मात्रा में मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट्स होती है. जिससे कि बीपी कोलेस्ट्रॉल Cholesterol कंट्रोल रहता है जो शरीर से फ्री रेडिकल्स  से बचाते हैं और वेट लूज करने से लेकर स्किन तक के लिए बहुत अच्छे से काम करते हैं.इन्हें आसानी से पचाया जा सकता है क्योंकि ये डाइजेस्टिव सिस्टम पर भी भारी नहीं होते.

आपका मेटाबॉलिज्म रेट बढ़ता है 

डिटॉक्स जूस जितना ज्यादा आपकी बॉडी क्लीन करेगा आपका मेटाबॉलिज्म रेट उतना ज्ज्यादा बढ़ता है जिससे कि बॉडी आपकी फूड एनर्जी को अच्छे से यूज कर पाती है और आपके को Weight को बढ़ने से रोकती है साथ ही में पेट की कब्ज गैस व स्किन प्रॉब्लम्स, बालों के झड़ने की समस्या से भी राहत दिलाते हैं 

क्यों जरूरी है डिटॉक्स Detox

डिटॉक्स कई तरीके से होता है यह आपके शरीर से सारे विषैले पदार्थ बाहर निकालते हैं और बॉडी Body को अच्छे से काम करने में मदद करते हैं परंतु अगर आप डिटॉक्स जूस से करते हैं तो इसके कई फायदे होते हैं जैसे कि यह आपकी  डाइजेशन सिस्टम पर ज्यादा भारी नहीं होते  भोजन की तुलना में, भोजन को पचाने में शरीर को 8 से 10 घंटे लग जाते हैं पर वही जूस पानी की तरह हमारी पूरी बॉडी में घुल जाता है जिससे यह आसानी से पच जाता है डिटॉक्स जूस आपको बहुत देर तक पेट भरा होने का एहसास कराता है 

आजकल के आधुनिक आयुर्वेदिक प्रोडक्ट मैं यह सब Fruits & Herbs आराम से आपको कोल्ड प्रेस शुगर फ्री मिल जाते हैं आप खुद इनका चयन करके. इनका उपयोग रोज के प्रोटीन विटामिन मिनरल्स की पूर्ति के लिए कर सकते हैं.

1. सफेद पेठे का जूस या सफेद कद्दू के जूस के नाम से भी जानते हैं सफेद पेठा अच्छे बैक्टीरिया को बढ़ावा देता है जिससे पाचन, कब्ज़ और पेट से जुड़ी दूसरी दिक्कतें दूर होती हैं और आपकी आंत अच्छे से साफ और हेल्दी होती है।सफेद पेठा  मैं कैल्शियम, ज़िंक, फॉस्फोरस होता है इसका एक ग्लास रोज सुबह खाली पेट पिएं और इसे पीने के कम से कम दो से 3घंट बाद तक कुछ न खाएं. इससे आपकी बॉडी अच्छे तरीके से डिटॉक्स होती हैऔर यह आपकी एनर्जी को बढ़ाने का काम करता है.

2. आप हफ्ते में एक बार नारियल पानी फास्ट रख सकते हैं.अगर पॉसिबल हो तो  हमारे शरीर के लिए नारियल पानी को अमृत के समान माना गया है.इसे पीने से भी बॉडी डिटॉक्स होती है. इस फास्ट दिन में  सादा पानी ही पिया जाता है. और चार से पांच बार केवल नारियल पानी और इससे हमारे डाइजेस्टिव सिस्टम को भी आराम मिलता हैऔर शरीर से गंदगी बाहर निकलती है क्योंकि जब शरीर में भोजन नहीं जाता है तो शरीर आराम से क्लीनिंग का काम करता है.

बॉडी डिटॉक्स Body detox करने का तरीका

3. बीटरूट, आंवला, पालक, कच्ची हल्दी आप इनका जूस बना सकते हैं बीट में एंटीऑक्‍सीडेंट भरपूर मात्रा में पाया जाता है आंवला इसमें विटामिन सी, एंटी ऑक्सीडेंट, आयरन, और पोटेशियम होता है जो शरीर के लिए महत्वपूर्ण पोषक तत्व हैं.पालक, ब्लड प्रेशर को कम करने के लिए .एनीमिया (Anemia) के खतरे को कम करने में  कच्ची हल्दी इंफेक्शन, सर्दी-जुकाम आदि को दूर करने में कच्ची हल्दी बेहद फायदेमंद साबित होती है.  इस जूस का आपको सुबह  खाली पेट पीना है इससे भी आपकी बॉडी बढ़िया तरीके से डिटॉक्स होती है.

शरीर को डिटॉक्स Detox करने के लिए क्या खाएं

4. ग्रीन डेटॉक्स Detox जूस मे आयरन, Vitamin-C होते हैं. यह हमरे बॉडी को डिटॉक्स करता है, और वेट लॉस  मैं भी काम. करता है  पुदीने ,खीरे,धनिया पत्ती,अदरक  इन सब का आप जूस बना ले और सुबह खाली पेट सेवन करें 

पुदीने की पत्तियां, पाचन शक्ति सुधारे,त्वचा के लिए फायदेमंद है अदरक,कब्ज, पेट दर्द, पेट की ऐंठन, मरोड़ व गैस जैसी कई समस्याओं से राहत दिलाने में  सहायता करती है धनिया की पत्तियों में  प्रोटीन, वसा, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, मिनरल होते हैंजोकि।पाचन शक्ति बढ़ाने में मददगार होते हैं ,खीरा इसमें इतना पानी होता है कि ये स्किन में ग्लो ला सकता है। साथ ही खीरे में फाइबर की भी अच्छी मात्रा होती है जो कि मेटाबोलिज्म बूस्ट करने में आपकी मदद करता है

5. इस हेल्दी ड्रिंक को बनाने के लिए सबसे पहले एक अनार, गाजर, चुकंदर को एक मिक्सी में डालकर जूस बना ले यह भी एक हेल्दी और बढ़िया डिटॉक्स जूस होता है 

अनार का जूस आंतों की सूजन को कम करके पाचन में सुधार करता है, गाजर  मैंएंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं, स्किन को रखे स्वस्थ, डाइजेशन सिस्टम को बनाए बेहतर  बनाने में मदद करता है और चुकंदर का जूस पीने से हीमोग्लोबीन की मात्रा बढ़ती है, खून की कमी दूर करे .ब्‍लड प्रेशर को कम करे

हालांकि अगर आपक कोई मेडिकल समस्या या कोई और दिक्कत है तो किसी एक्सपर्ट की सलाह और देखरेख में ही आगे बढ़ें.

जरूर पढ़े:- एसिडिटी और गैस का इलाज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here