जानते हैं आप रोज कितने Soap Chemicals से नहाते हैं? Check Top 8 Soap Chemical, Must Check Best Ayurvedic Soap

2
1049
soap chemicals
soap chemicals

साबुन और अन्य cleaning agents Natural और soap chemicals दोनों तरह के कई ingredients के होते हैं। ये soap chemicals एक झाग बनाने, सुगंध देने या साबुन को बैक्टीरिया के संक्रमण से बचाने जैसे माध्यमिक उद्देश्यों (objectives)की पूर्ति करते हैं, लेकिन चूंकि वे skin के संपर्क में आते हैं

Soap हमारी लाइफ का रोज काम आने वाला product है और भारतीय हर प्रोडक्ट को टीवी आज अच्छे ऑफर कम दाम अच्छे खुशबू के कारण लेता है पर क्या सच में हम सबको इन soap की सही जानकारी है soap हमारी बॉडी को detox करने का काम आता हैअच्छा ध्यान देता है अच्छी खुशबू देता है और हमें लगता है हमारे नहाने का काम खत्म हो गया

नहाना शरीर की थकान  या दर्द को कम करने के लिए शरीर की सफाई करने के लिए या कई बार अधिक काम होने पर हम सभी नहाने का सहारा लेते हैं नहाना हमें तनावमुक्त भी करता है आज के आधुनिक समय में हम सबके पास समय की कमी होने के कारण हम लोग जल्दी जल्दी soap  से नहाने , खुशबू वाली चीजों को ज्यादा महत्व देते हैं

इसलिए उनके कई हानिकारक प्रभाव हो सकते हैं। इनमें से कई soap chemicals के harmful Effects and side-effects पर लंबे समय से बहस चल रही है। कुछ पर प्रतिबंध लगा दिया गया है, अन्य रडार के अधीन (under other radar)हैं। अंतिम उपभोक्ता (consumer) के लिए, खेद से सुरक्षित रहना बेहतर है

निम्नलिखित साबुन में आम रासायनिक अवयवों (soap chemicals ingredients) की सूची है

1. Soap chemically Sourced Fragrance

खुशबू कई प्रकार के soap chemicals को मिलाकर बनाई जाती है और लगभग सभी ब्यूटी प्रोडक्ट्स products में यह पाई जाती है यह अस्थमा एलर्जी जैसे रोगों का कारण है

2. Dioxane

Dioxane ऐसे soap chemicals होते है Dioxane के तीव्र संपर्क से आंख, नाक और गले में जलन होती है त्वचा के संपर्क में जलन और एलर्जी  पैदा कर सकता है।

3. Parabens

Parabens ऐसे soap chemicals होते हैं जिनके मिश्रण से ब्यूटी प्रोडक्ट्स (cosmetics) और कुछ खाद्य पदार्थों और दवाओं की शेल्फ लाइफ (Shelf life) में वृद्धि होती है। वे किसी भी प्रोडक्ट में बैक्टीरिया और कवक (fungus) को बढ़ने से रोकने के लिए परिरक्षक (preservative) की तरह काम करते हैं और एक सस्ता विकल्प भी होते हैं।

पैराबीन (Parabens) का उपयोग शैम्पू, कंडीशनर, मॉइस्चराइज़र, लोशन, क्रीम, दवाइयाँ, ब्लश, फाउंडेशन आदि में किया जाता है ताकि उनका शेल्फ जीवन (Shelf life) बढ़ाया जा सके

जरूर पढ़े:- 5 Best नींद हैक्स और टिप्स के साथ कैसे जल्दी सोएं

कई शोधों में यह बात सामने आई है  स्तन कैंसर और पैराबीन के संबंध पर शोध किया जा रहा है। मिथाइल पैराबीन (Methylparaben) त्वचा को सूरज की रोशनी के प्रति संवेदनशील बनाता है, जिससे एलर्जी, त्वचा पर खुजली और समय से पहले झुर्रियां जैसी समस्याएं हो सकतीं हैं।

जिन उत्पादों में पैराबीन होते हैं, वे त्वचा रोगों जैसे कि जिल्द की सूजन (dermatitis)  का कारण बन सकते हैं।

4. Synthetic Colors

सिंथेटिक रंग पारा, सीसा, क्रोमियम, तांबा, सोडियम क्लोराइड, या बेंजीन जैसे soap chemicals से बनाए जाते हैं।

कोलतार (coal tar,) से बने लगभग सभी सिंथेटिक रंगों मैं कार्सिनोजेनिक (carcinogenic) पाया गया है। वे धातुओं और लवणों (metals and salts), से भरे होते हैं, जो अक्सर skin पर जमा हो जाते हैं, जिससे skin की एलर्जी हो जाती है।

5. Triclosan

ट्राईक्लोसन मानव cell को मारता है और जानवरों में हार्मोनल संतुलन को नुकसान पहुंचाता है। यह skin पर  घंटों तक रहता है। एक बार जब यह शरीर के अंदर जमा हो जाता है, तो यह जमा होता रहता है और इससे जन्म के समय दोष, प्रजनन संबंधी समस्याएं हो सकती है।

6. सोडियम लॉरिल सल्फेट Sodium Lauryl sulphate (SLS)

अफसोस की बात है कि एसएलएस जो लगभग 90% त्वचा देखभाल उत्पादों में पाया जाता है, एक औद्योगिक पैमाने(industrial-scale) पर सफाई एजेंट है। इसका मतलब है कि यह वास्तव में आपके garage cleanerका एक हिस्सा है, और यह आपके टूथपेस्ट के अंदर भी जाता है।

यह संभावित रूप से कार्सिनोजेनिक(carcinogenic) है और इसे बालों के झड़ने का कारण भी माना गया है

7. Propylene Glycol(प्रोपलीन ग्लाइकोल)

यह सौंदर्य उत्पादों (common ingredients )और दुर्भाग्य(unfortunately) से baby products मैं भी यूज़ किया गया है यह बहुत ही बहुत ही common ही सामान्य material है। carcinogenic and can be toxic It also kills off cells.

8.Ethanol

यह hand sanitizers में एक बहुत ही common ingredient है और अगर इसे बहुत बार इस्तेमाल किया जाए तो इसके problems हो जाती है आपकी त्वचा के प्राकृतिक तेलों को अल्कोहल से धोने से त्वचा के सूखने और टूटने की समस्या हो सकती है।

9.Lye

Lye generally  skin को सूखता है और परेशान करता है। ज्यादातर मामलों में, लाइ (soap chemicals reactions )रासायनिक प्रतिक्रियाओं से गुजरेगी और ग्लिसरीन का निर्माण करेगी, लेकिन किसी भी (unchanged lye) को कास्टिक classified  किया जाता है।

choose non-soap chemicals cleansers.   चुन सकते हैं उदाहरण के लिए ग्लिसरीन साबुन /साबुन का एक बहुत अच्छा विकल्प है क्योंकि इसे completely natural ingredients.से बनाया गया है यह त्वचा पर भी बहुत कोमल होता है और सफाई  भी ठीक  से करता है। ऐसे अन्य प्राकृतिक विकल्प हैं जिनमें माइक्रोबियल(microbial action ) क्रिया के लिए प्राकृतिक तेल(natural oils ) होते हैं और कोई added fragrance.  नहीं  है।

हम इन हानिकारक रसायनों  soap chemicals को कैसे बदल सकते हैं?

Fitness veda लेकर आया है आपके लिए

soap chemicals

100% pure paraben free SLS FREE ,No artificial fragrance, no alcohol and color free इसमें है carbon oil, coffee bean extract ,seed oil, fruit extract essential oil blend and more.

for more visit at www.fitnessveda.in

हालांकि सभी soap chemicals से बचना असंभव है, लेकिन काउंटर-टॉप product को खरीदने से पहले लेबल(labels) को ध्यान से पढ़कर उनमें से अधिकांश से बचा जा सकता है।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here