किडनी को स्वस्थ रखने के उपाय

0
393
किडनी को स्वस्थ रखने के उपाय
किडनी को स्वस्थ रखने के उपाय

हम सभी यह जानते हैं कि किडनी हमारे शरीर का एक बहुत महत्वपूर्ण अंग है। किडनी हमारे शरीर से हानिकारक चीजो को बाहर निकालने का काम करती है। किडनी kidney हमारे शरीर में एक फिल्टर की तरह काम करती है। हमारे शरीर को सही रूप से चलाने के लिए किडनी का बहुत बड़ा योगदान है।
हम जो भी भोजन करते हैं उसमें पोषक चीजो के साथ कुछ हानिकारक चीजे भी होते हैं। किडनी खून से हानिकारक पदार्थों को फिल्टर करके पेशाब के जरिए शरीर से बाहर निकालने का काम करती है।
क्या आप जानते हैं कि किडनी न केवल शरीर से हानिकारक पदार्थों को बाहर निकालने का काम करती है, बल्कि इसके अलावा किडनी ब्लड प्रेशर को संतुलित करने और शरीर में बाकि रसायनों के लेवल को संतुलित करने में भी मदद करती है। आज के समय में जीवनशैली के बदलते प्रभावों के कारण लोग पहले के मुकाबले हर तरह की किडनी की समस्या के शिकार हो रहे हैं।

Table of Contents

किडनी खराब होने के लक्षण

आजकल के आधुनिक आयुर्वेदिक प्रोडक्ट मैं यह सब Fruits & Herbs आराम से आपको कोल्ड प्रेस शुगर फ्री मिल जाते हैं आप खुद इनका चयन करके. इनका उपयोग रोज के प्रोटीन विटामिन मिनरल्स की पूर्ति के लिए कर सकते हैं

  • शरीर में पीलापन होना, जल्दी थकान आना, किडनी फेल होने के लक्षण हैं। शरीर मे जैसे-जैसे किडनी की बीमारी बढ़ती रहती है, तो रोगी पहले की तुलना में ज्यादा कमजोर और अधिक थका हुआ महसूस करता है। थोड़ा सा चलने में भी परेशानी होने लगती है। यदि एनीमिया का इलाज से ठीक नहीं हो रहा है, तो यह किडनी फेल होने का संकेत हो सकता है।
  • सुबह उठने पर आंखों और चेहरे के आसपास सूजन, पेट और पैरों में सूजन भी किडनी की बीमारी का संकेत है। किडनी के ठीक से काम नहीं करने पर हमारे शरीर में सोडियम जमा होने लगता है, जिससे पिंडलियों और टखनों में सूजन आ जाती है। लेकिन हमे इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि सूजन जरूरी नहीं कि किडनी खराब होने की वजह से ही हो।
  • भूख न लगना, बार-बार उल्टी होना , मुंह के स्वाद में बदलाव होना आदि किडनी की बीमारी के लक्षण है। किडनी की क्षमता कम होने की वजह से हमारे शरीर में टोक्सिन की मात्रा बढ़ने लग जाती है। इसकी वजह से उल्टी, जी मिचलाना और रोगी को हिचकी आने लग जाती है।
  • हमारी त्वचा में खुजली और रूखापन होना भी किडनी खराब होने के संकेत  है। इस स्थिति में किडनी शरीर से विषैले पदार्थ बाहर नहीं निकाल पाती है। फिर ये टॉक्सिन्स खून में जमा होने लगते हैं, जिससे त्वचा में खुजली, रूखापन के साथ-साथ दुर्गंध आने लगती है।
  • ज्यादा पेशाब आना भी किडनी फेल होने का एक लक्षण है। किडनी की समस्या होने पर व्यक्ति को या तो बहुत कम या बहुत बार पेशाब करने की इच्छा महसूस होती है। ये दोनों लक्षण ही किडनी को बहुत नुकसान पहुंचाती हैं। कुछ लोगों के पेशाब में खून भी आने लग जाता है। ऐसा किडनी के खराब होने के कारण पेशाब (Urine) में ब्लड सेल्स के लीकेज होने के कारण होता है।
  • हाई ब्लड प्रेशर, शुगर और कोलेस्ट्रॉल के लेवल वाले व्यक्ति को कम उम्र में किडनी खराब होने का सबसे बड़ा खतरा होता है। इसलिए इन लोगों को अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखना चाहिए।

लिवर और किडनी को स्वस्थ रखने के उपाय

  • रोज सुबह एक्सरसाइज या व्यायाम करने से किडनी के खराब होने या किडनी से जुड़ी होने वाली बीमारियों का ख़तरा कम होता है। इसी के साथ रोज व्यायाम करने या रोज फिजिकल एक्टिविटी करने से ब्लड प्रेशर के बिगड़ने का ख़तरा कम रहता है। जो लोग रोजाना व्यायाम करते हैं उनका ब्लड प्रेशर हमेशा नार्मल रहता है। किडनी को स्वस्थ रखने के लिए व्यायाम बहुत ज़रूरी है।
  • हमेशा घर का बना हुआ खाना खाइए और बाहर का खाना खाने से बचें। आप अपनी डाइट मे ज्यादा से ज्यादा ताजा फल और हरी सब्जियो को शामिल करें। ज्यादा पोटेशियम वाले खाने से बचे।अपनी डाइट में आयरन से भरपूर भोजन को ज्यादा शामिल करें।

किडनी को स्वस्थ रखने के घरेलू उपाय

  • हमारी अच्छी सेहत के लिए उड़द, मूंग और अरहर की दाल से बढ़िया कुछ  नहीं है। इनमे  प्रोटीन, कैल्शियम, पोटैशियम और आयरन जैसे कई पोषक तत्व भी पाए जाते हैं। इन दाल के सेवन से किडनी की पथरी  में काफी  आराम मिलता है।
  • नारियल पानी पीने से भी किडनी हमेशा स्वस्थ रहती है, क्योंकि नारियल पानी में कई तरह के विटामिन, फाइबर और मिनरल्स पाए जाते हैं। इनके अलावा यह कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम और पानी का भी अच्छा स्रोत है। रोजाना नारियल पानी पीने से कई स्वास्थ्य समस्याएं दूर हो जाती हैं।
  • ज्यादा वज़न बढ़ना किडनी के ख़राब होने के लिए ज़िम्मेदार होता है। इसलिए हमे अपने वज़न को हमेशा कंट्रोल मे रखना चाहिए। इसके लिए हमें न सिर्फ़ व्यायाम करना चाहिए बल्कि अपनी डाइट का भी ध्यान रखना चाहिए। किडनी को स्वस्थ रखने के लिए जिनमें बीज होता है हमे उन चीजों को खाने से बचना चाहिए। हमे अपनी डाइट में अंडे, दूध, मछली और अनाज के साथ साथ ब्लूबेरी और पत्तागोभी का सेवन करना चाहिए। 

जरूर पढ़े:- Best Ketogenic Diet के लिए उपयुक्त 10 खाद्य पदार्थ

  • हमें प्रोटीन से और मिनरल से भरपूर चीजों का सेवन करना चाहिए और साथ ही धूम्रपान या सिगरेट का सेवन नही करना चाहिए। धूम्रपान छोड़ने से किडनी के कैंसर होने का ख़तरा भी कम हो जाता है। धूम्रपान के सहारे बहुत सारे हानिकारक तत्व हमारे शरीर में चले जाते हैं और वो खून से पूरे शरीर में फैल जाते हैं। वो लोग जो रोज धूम्रपान करते हैं उन्हें अपनी आदत को तुरंत सुधारना चाहिए l

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here